-->

maut shayari in hindi । मौत शायरी हिन्दी। 2 line maut shayari।


maut shayari in hindi


Very sad maut shayari in hindi आंखे खोल देने वाली मौत  शायरी, जिन्हें यह लगता है कि दौलत ही सबकुछ है, या बेईमानी से मिली कामयाबी उसे चेन और सुख देंगे तो,  एक बार ये दिल को हिला देने वाली शायरी जरूर उन तक पहुंचाए, maut shayari in hindi 120 character, maut ka intezar shayari, maut shayari pic, ,dard shayari ,
और share भी जरूर करे ताकि एसा सोचने वालों की आंखे जरूर खुल जाए जो मौत से भी नहीं डरते हैं और बेजुबान और गरीबो की मेहनत की गाढ़ी कमाई खाकर हज़म कर रहे हैं, इंसान इंसान को तो धोखा दे देगा पर उसके दरबार में तो वहीं मिलेगा जेसे कर्म उसने किए हैं। और दोस्तों आप इसे इसे लोगों तक पहुंचाने मे हमारी मदद जरूर करे और शेयर जरूर करे.. धन्यवाद 


 2 line maut  shayari

कितना गुरूर करता है अपनी दौलत और ठाठ पर..
मूठी भी तेरी खाली रहेगी पहुंचेगा जब घा पर।
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com
maut shayari pic



Kitana gurur karata hai apani daulat aur thaath par..
Moothi bhi teri khaali rahegi pahunchega jab ghat par.
🍁🍁🍁


जीते जी जब उसने किसी को हंसने ना दिया। 
मंजर था उसकी मौत पर, पर किसी के ज़मीर ने उन्हें रोने ना दिया। 
🍁🍁🍁



maut shayari in hindi, shayari-love-me.com
maut shayari pic



JIte jI jab usane kisI ko hansane na diya.
Manjar tha usaki maut par, par kisi ke zamir ne unhen rone na diya.
🍁🍁🍁


मेरी मौत पर कंधा देने आए हों, वो भी इतने सारे। 
जीते-जी एक आ जाता तो शायद आज जिंदा होते। 
🍁🍁🍁


maut shayari in hindi, shayari-love-me.com
maut shayari pic



Meri maut par kandha dene aae hon, vo bhi itane saare.
Jeete-jee ek aa jaata to shaayad aaj jinda hote.
🍁🍁🍁


खाक हो गया जलकर जिसको अपने पर इतना नाज़ था.. 
रूह मेरी तड़पती रही, मौत का एसा मंज़र था। 
🍁🍁🍁



Khaak ho gaya jalakar jisako apane par itana naaz tha.. 
Rooh meri tadapatee rahi, maut ka esa manzar tha. 
🍁🍁🍁



मौत आये तो ऐ ख़ुदा इतनी सी सिफारिश है.. 
वों देखे अपनी आँखों से बस इतनी सी गुज़ारिश है। 
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com
maut shayari pic



Maut aaye to ai khuda itani si siphaarish hai..
Von dekhe apani aankhon se bas itani si guzaarish hai.
🍁🍁🍁





बेदर्द ज़माना हमें चेन से जीने नहीं देता, 
वो तो शुक्र है खुदा का वों रिश्वत नहीं लेता। 
बिक गए शहंशाह यहां कौडिय़ां के दाम में .. 
बेफिक्र हू में क्योंकि उसके दरबार में सबूतों पर न्याय नहीं होता। 
🍁🍁🍁


maut shayari in hindi, shayari-love-me.com




Bedard zamaana hame chen se jeene nahi deta,
Vo to shukr hai khuda ka von rishvat nahin leta.
Bik gae shahanshaah yahan kaudiyo ke dam me ..
Bephikr hu me kyonki usake darabaar me sabuto par nyay nahi hota.
🍁🍁🍁


वों अपनी अपनी दौलत कह कर सबकों पराया कर गए। 
एक टुकड़ा सफ़ेद कपड़े का लेकर परलोक सिधार गए। 
🍁🍁🍁


Von apani apani daulat kah kar sabakon paraaya kar gaye.
Ek tukada safed kapade ka lekar paralok sidhaar gaye.
🍁🍁🍁


वो आज रो रहे थे जिसने  रुलाया हमें जी भर के । 
कई जिंदा ना हो जाऊँ आज मैं इतनी मोहब्बत देख के। 
🍁🍁🍁


maut shayari in hindi, shayari-love-me.com
maut shayari pic



Vo aaj ro rahe the jisane  rulaaya hame jee bhar ke .
Kai jinda na ho jaun aaj ma itani mohabbat dekh ke.
🍁🍁🍁





इंसान बिकते हैं ज़ज्बात बिकते हैं.. 
कानून बिकते हैं फैसले बिकते हैं। 
मौत तो मेरे मालिक के हाथ है.. 
रोयेंगे तो वो जो उसके खिलाफ चलते हैं। 
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com



Insan bikate hai zajbaat bikate hai..

Kaanun bikate hai phaisale bikate hai.
Maut to mere maalik ke haath hai..
Royenge to vo jo usake khilaaph chalate hai.
🍁🍁🍁


आज तू दावा करता है कि ये सब मेरा है..
खाली हाथ आया था खाली हाथ जाएगा 
बस कुछ पल का यहा तेरा रहन बसेरा है। 
🍁🍁🍁



Aaj tu daava karata hai ki ye sab mera hai..
Khaali haath aaya tha khaalee haath jaega
Bas kuchh pal ka yaha tera rahan basera hai.
🍁🍁🍁


वाह रे इंसान कुछ ना लेकर आया तू, 
और चाहता पूरी दुनिया की दौलत।
हंसता है किसी गरीब को देखकर.. 
बड़े अज़ीब शौक रखता है तू। 
🍁🍁🍁


Vaah re insaan kuchh na lekar aaya tu,
Aur chaahata poori duniya ki daulat.
Hansata hai kisee garib ko dekhakar..
Bade azib shauk rakhata hai tu.
🍁🍁🍁


बड़े दर्द दिए मेंने ज़माने को अपनी जोली भरने को।
इंसान तो वो फ़कीर  निकला, जिसने जोली बाट दी गरीबो को।
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com



Bade dard die menne zamaane ko apani jolee bharane ko.
Insaan to vo fakeer  nikala, jisane joli baat dee garibo ko.
🍁🍁🍁


मौत का भी अपना मंजर है,
समय सबका आता जरूर है 
नहीं दे पाएगा तू रिश्वत यम को
डाले जो सीने में तूने बेजुबान के खंजर है।
🍁🍁🍁


Maut ka bhee apana manjar hai,
Samay sabaka aata jaroor hai
Nahin de paega tu rishvat yam ko
Daale jo sine me tune bejuban ke khanjar hai.
🍁🍁🍁


वों फकीर छेन से सोता है हर रात छटाई पे।
हैरान हो गया वो देखकर जो सो नहीं पाता है मखमली रज़ाई पे।
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com



Von phakeer chhen se sota hai har raat chhatai pe.
Heran ho gaya vo dekhakar jo so nahi pata hai makhamalee razai pe.
🍁🍁🍁


गया जब दुनिया से दोनों हाथ खाली थे सिकंदर के
क्या इरादे थे उस शहंशाह के, कफन भी ना मिले उसे नसीब के। 
🍁🍁🍁


Gaya jab duniya se donon haath khaali the sikandar ke.
Kya iraade the us shahanshaah ke, kaphan bhi na mile use nasib ke.
🍁🍁🍁



मौत आई तो याद आया कि रहम क्या होता है। 
भीख मांगता जिंदगी की वो, पर वक़्त एक सा ना रहता है। 
तब समझ में आया रईस के की गरीबी क्या होती है। 
🍁🍁🍁


Maut aai to yaad aaya ki raham kya hota hai.
Bhikh maangata jindagi ki vo, par vaqt ek sa na rahata hai.
Tab samajh mein aaya raees ke ki garibi kya hoti hai.
🍁🍁🍁


मूठी बंद कर आने वाले, हाथ में कुछ ना ले जा पाएगा। 
छीन कर चेन-ओ-सकू गरीबो का अपनी मौत पर पछतायेगा।
🍁🍁🍁


Muthi band kar aane vaale, haath me kuchh na le ja paega.
Chhin kar chen-o-sakoo garibo ka apani maut par pachhataayega.
🍁🍁🍁


उस ख़ुदा ने बनाया है मुझे, वहीं मुजे मिटाएगा। 
मेरी मौत की दुआ करने वाले, तेरा Time भी आएगा। 
🍁🍁🍁

maut shayari in hindi, shayari-love-me.com



Us khuda ne banaaya hai mujhe, vahin muje mitaega.
Meri maut kee dua karane vaale, tera timai bhi aaega.
🍁🍁🍁


दोलत नहीं बस कुछ लकड़ी और एक कफन का टुकड़ा चाहिए। 
मौत आएगी तो वो भी कोई और ही लेकर आएगा।
🍁🍁🍁


Dolat nahin bas kuchh lakadee aur ek kaphan ka tukada chaahie.
Maut aaegee to vo bhee koee aur hee lekar aaega.



आशा करते हैं कि ये आंखे खोल देने वाली maut shayari in hindi आपको पसंद आई होगी, और लोग अपने लालच को छोडकर दूसरों की मदद करे, उनके दुःख को समझे दूसरों की सहायता ही हमें शांति देती है ना कि अत्यधिक दोलत और अच्छी-खासी नींद भी तभी आती है जब कमाई अपनी मेहनत की हों, पढ़ने के लिए आपका आभार और धन्यवाद। Read more,,shayari

Post a Comment

Previous Post Next Post
<-- -->