-->

hindi shayari on positive attitude। सकारात्मक सोच शायरी । positive soch।


Positive attitudeओर Negative attitude में क्या Defrence है attitude क्या है आइए जानते हैं। तो सबसे पहले हम जानते हैं कि एटीट्यूड का मतलब ?

किसी भी चीज़ के बारे में जो हमारी फीलिंग होती है। जो हमारी सोच होती है जो हमारा रिएक्शन होता है। उसको हम Attitude बोलते हैं। जो जिसको हम उर्दू में कहते हैं रवैय्या।

हमारा उस चीज के बारे में क्या रवैय्या है। हम उस चीज के बारे में क्या सोचते हैं। कैसी हम उस चीज के बारे में फील करते महसूस करते हैं। कैसे हम उस चीज के बारे में  जो अपने विचार ,सोच व्यक्त करते हैं, उसको हम कहते हैं। Attitude. तो अपना ऐटिटूड पॉजिटिव रखे और पढ़े ये hindi shayari on positive attitude आशा करते है आपको पसंद आएगी।

hindi-shayari-on-positive-attitude
Shayari on positive attitude image


hindi shayari on positive attitude


राह वों देखते हैं जो निर्भर दूसरों पर करते हैं..
हम अपना काम खुद और अपनी राह भी खुद चुनते हैं..


raah von dekhate hain jo nirbhar doosaron par karate hain..
ham apana kaam khud aur apanee raah bhee khud chunate hain..


सकारात्मक सोच पर शायरी:-


अपनी ताकत की  पहचान करो,
कमजोरियों को तो ज़माना ढूंढ ही लेता है।



apanee taakat kee  pahachaan karo, 
kamajoriyon ko to zamaana dhoondh hee leta hai.

अपनी सोच शायरी:-

हम लकीरों पर विश्वास नहीं करते
मेहनत का ज़ज्बा हो तो लकीरें ख़ुद बन जाती है..


ham lakeeron par vishvaas nahin karate
mehanat ka zajba ho to lakeeren khud ban jaatee hai..



अपनी हद्द मे रहता हूं, उफान में भी रखता हूं..
मै वो नदी का पानी हू जो अपनी धारा मे बहता हू ..
रुकता हू तब तक जब तक दीवार को सीने मैं रखता .
टूट जाए मेरे सब्र का बाँध उस दिन सब दिशाओं को मोड देता हूं। 


hindi-shayari-on-positive-attitude
Shayari on positive attitude image


apanee hadd me rahata hoon, uphaan mein bhee rakhata hoon.. 
mai vo nadee ka paanee hoo jo apanee dhaara me bahata hoo .. 
rukata hoo tab tak jab tak deevaar ko seene main rakhata . 
toot jae mere sabr ka baandh us din sab dishaon ko mod deta hoon. 


हम उन्हीं को याद करते हैं जिससे हमारा attitude मिले..
ये रिश्तों की सियासत वो करते हैं जिन्हें लोग विरासत मे मिले।


ham unheen ko yaad karate hain jisase hamaara attitude mile..
ye rishton kee siyaasat vo karate hain jinhen log viraasat me mile.


पॉजिटिव बातें:-
ख़ुश उसमें रहा,

ख़ुश उसमें रहा, जितना पाया मेने..
गिरे हुए को उठाने के लिए खुद को कभी झुकाया नहीं मेने।


hindi-shayari-on-positive-attitude
hindi shayari on positive attitude


khush usamen raha, jitana paaya mene..
gire hue ko uthaane ke lie khud ko kabhee jhukaaya nahin mene.

2 लाइन प्रेरणादायक शायरी:-जो मिलते गए उसी

जो मिलते गए उसी का होता गया मैं..
दोलत कम है लेकिन दिलों की जंग जीत गया मैं।



hindi-shayari-on-positive-attitude
hindi shayari on positive attitude

jo milate gae usee ka hota gaya main..
dolat kam hai lekin dilon kee jang jeet gaya main.



shayari on positive attitude:-अफसोस नहीं करता हू


अफसोस नहीं करता हू, उठकर कर फिर खड़ा हो जाता हूँ मै..
भले ही दुनिया की नजरो गिर गया हू.. लेकिन अपनी नजरो मे एक कदम और बढ़ा हू मै।


hindi-shayari-on-positive-attitude


aphasos nahin karata hoo, uthakar kar phir khada ho jaata hoon mai.. 
bhale hee duniya kee najaro gir gaya hoo.. lekin apanee najaro me ek kadam aur badha hoo mai.


हार नहीं मानता और नहीं झुकता मुसीबतों से..
Attitude हमारा positive है इसलिए हारते नहीं मन से।


haar nahin maanata aur nahin jhukata museebaton se.. 
attitude hamaara  positive hai isalie haarate nahin man se. 


Hesiyat उनकी पूछी जाती है जिनकी पहचान कपड़ों से होती है।
हम निकले फटे कपड़ों में तो भी दुनिया पहचान जाती है।



hindi-shayari-on-positive-attitude
Shayari on positive attitude image



haisiyat unakee poochhee jaatee hai jinakee pahachaan kapadon se hotee hai.
ham nikale phate kapadon mein to bhee duniya pahachaan jaatee hai.


जो गिर जाए और खुद से उठ ना सके, उसे बेकार कहते है ।
जो हजार बार भी गिर कर खड़ा हो जाए उसे लाज़वाब कहते हैं


jo gir jae aur khud se uth na sake, use bekaar kahate hai .
jo hajaar baar bhee gir kar khada ho jae use laazavaab kahate hain


आशावादी शायरी:-टूटकर गिरने की


टूटकर गिरने की आदत नहीं हमें..
कोइ धागा हमें बाँध दे इतनी मजबूती नहीं किसी मे..
हम अपने आप में सितारे है..
किसी की रोशनी से चमके वो कांच का टुकड़ा नहीं हू में।


tootakar girane kee aadat nahin hamen.. 
koi dhaaga hamen baandh de itanee majabootee nahin kisee me.. 
ham apane aap mein sitaare hai.. 
kisee kee roshanee se chamake vo kaanch ka tukada nahin hoo mein. 



जाना चाहते हो तो शौक से जाओ रोकेंगे नहीं तुम्हें..
पर ख्याल रखना अगर सोचो लौटकर आने का तो फिर छोड़ेंगे नहीं तुम्हें। 

jaana chaahate ho to shauk se jao rokenge nahin tumhen.. 
par khyaal rakhana agar socho lautakar aane ka to phir chhodenge nahin tumhen. 


shayari on positive attitude:-घर दूर नहीं है मेरा


घर दूर नहीं है मेरा, खुद चलकर जाऊँगा..
मंज़िल जब खुद की है तो किसी और का हाथ क्यों मांगूगा।
पत्थर कभी राह नहीं रोकते हैं..
सुन में वो उफान का पानी हू जो बहता ही छला जाऊँगा। 

ghar door nahin hai mera, khud chalakar jaoonga.. 
manzil jab khud kee hai to kisee aur ka haath kyon maangooga. 
patthar kabhee raah nahin rokate hain.. 
sun mein vo uphaan ka paanee hoo jo bahata hee chhala jaoonga. 


संघर्षशील शायरी:-करीब आने की कोशिश


करीब आने की कोशिश ना करो तुम..
हमें मोहब्बत सिर्फ मंज़िल से है। बस इतना समझ लो तुम।


kareeb aane kee koshish na karo tum.. 
hamen mohabbat sirph manzil se hai. bas itana samajh lo tum. 


किनारे टूट जाया करते हैं पानी के थपेड़ों से..
अभी हौसले बुलन्द है लड़ने के लिए तूफ़ानों से,
जरा सा अंधेरा क्या हुआ तुमने हार मान ली..
रुक अभी उजाला करता हू सूरज अपनी जेब में और चांद को रखता हू सिरहाने से..


kinaare toot jaaya karate hain paanee ke thapedon se.. 
abhee hausale buland hai ladane ke lie toofaanon se, 
jara sa andhera kya hua tumane haar maan lee.. 
ruk abhee ujaala karata hoo sooraj apanee jeb mein aur chaand ko rakhata hoo sirahaane se.. 



दुनिया की नजरों में सही बस अपनी नजरों गिर मत जाना।
सोच मैं बुलंदी हो तो दूसरों के Attitude से घबरा मत जाना।


duniya kee najaron mein sahee bas apanee najaron gir mat jaana. 
soch main bulandee ho to doosaron ke attitude se ghabara mat jaana. 


आसमानों को झुकाने का इरादा रखने वाले,
ऊपर देख कर नहीं चलते हैं।
ठोकर लगे पत्थर की तो ज़मी पर आ गिरते हैं..


aasamaanon ko jhukaane ka iraada rakhane vaale,
oopar dekh kar nahin chalate hain. 
thokar lage patthar kee to zamee par aa girate hain.. 


हिम्मत हो तो हर खेल को जीता जा सकता है,
अरे कभी मैदान में उतर कर तो देखो..
अपनी सोच से हारने वालो को अक्सर पीछे रहते देखा है। 


hindi-shayari-on-positive-attitude
hindi shayari on positive attitude


himmat ho to har khel ko jeeta ja sakata hai, 
are kabhee maidaan mein utar kar to dekho.. 
apanee soch se haarane vaalo ko aksar peechhe rahate dekha hai. 


तबीयत ना पूछना हमारी बस ये तो एक अफवाह थी।
हाल पूछ पूछ कर लोगों ने ही बीमार कर दिया..
थी कुछ मजलिस बाते दिल में ना जाने कब सरेआम कर दिया।


tabeeyat na poochhana hamaaree bas ye to ek aphavaah thee. 
haal poochh poochh kar logon ne hee beemaar kar diya.. 
thee kuchh majalis baate dil mein na jaane kab sareaam kar diya. 


वक़्त की नजाकत देखकर बात कर..
हम अपनी शर्तों को खुद ख़ुदा से मनवाते है..
ज़रा चांद को निकलने दे सितारों से क्या बात करना,
जो देर से आते हैं उनकी हाजिरी हम खुद लगवाते है


vaqt kee najaakat dekhakar baat kar.. 
ham apanee sharton ko khud khuda se manavaate hai.. 
zara chaand ko nikalane de sitaaron se kya baat karana,
jo der se aate hain unakee haajiree ham khud lagavaate hai 

shayari on positive attitude:-पसीने की कीमत वो सूरज


पसीने की कीमत वो सूरज नहीं चुका सकता..
हो हिम्मत खड़े होने की तो कोई पहाड़ ज़ुका नहीं सकता।
तारीफ उनकी होती है यहा साहब, जो छाव में बैठता है,
मेरे पेर के चालों की कहानी कोई और बता नहीं सकता... 

hindi-shayari-on-positive-attitude

paseene kee keemat vo sooraj nahin chuka sakata.. 
ho himmat khade hone kee to koee pahaad zuka nahin sakata. 
taareeph unakee hotee hai yaha saahab, jo chhaav mein baithata hai, 
mere per ke chaalon kee kahaanee koee aur bata nahin sakata... 


मेरी कमजोरियों को मुझे ही बताना तुम..
हारे नहीं है अभी हम ये अपने ज़हन में रखना तुम।
घिसने से आती है चमक हीरे में..
हमें वो कांच के टुकड़े ना समझना जो चमकते हैं उजाले में।


meree kamajoriyon ko mujhe hee bataana tum.. 
haare nahin hai abhee ham ye apane zahan mein rakhana tum. 
ghisane se aatee hai chamak heere mein.. 
hamen vo kaanch ke tukade na samajhana jo chamakate hain ujaale mein. 



शीशे की उम्र उसके गिरने तक..
दिए कि रोशनी उसके बुझने तक,
सूरज की रोशनी फिर आती है एक अंधेरे के बाद..
उम्मीद की किरण जिंदा रहेगी दिल में आखिरी मंज़िल तक।


sheeshe kee umr usake girane tak..
die ki roshanee usake bujhane tak,
sooraj kee roshanee phir aatee hai ek andhere ke baad..
ummeed kee kiran jinda rahegee dil mein aakhiree manzil tak.



अपने साये के आगोश में मत रहना,
अक्सर ये तुम से भी बड़ा दिखता है उजाले में..


apane saaye ke aagosh mein mat rahana, 
aksar ye tum se bhee bada dikhata hai ujaale mein.. 


कर सकता हूं मैं बेहतर इससे भी..
गिर कर खड़ा हो जाऊँगा पर करके रहूँगा इसको भी..
हारता नहीं दिल से कभी। ये attitude है अपना भी।


kar sakata hoon main behatar isase bhee.. 
gir kar khada ho jaoonga par karake rahoonga isako bhee.. 
haarata nahin dil se kabhee. ye atitude  hai apana bhee. 


थक ना जाना उस राह में..
भूल ना जाना मंजिलों को किसी की चाह में।
ईमान बनाए रखना, तोल ना देना उन खोटे सिक्कों में...


thak na jaana us raah mein..
bhool na jaana manjilon ko kisee kee chaah mein.
eemaan banae rakhana, tol na dena un khote sikkon mein... 


जो हार में भी मुस्कुराए, जीत के लिए फिर खड़े हो जाए।
वहीं सकारात्मक सोच और positive attitude कहलाये।


jo haar mein bhee muskurae, jeet ke lie phir khade ho jae. 
vaheen sakaaraatmak soch aur positive attitude kahalaaye. 



हार की इतनी हिम्मत कहा जो हमसे मिले..
तक़दीर हम मेहनत से लिखते हैं जो लकीरों मे ना मिले।
खौफ़ रखते हैं हम सिर्फ ख़ुदा का..
हारना नहीं, बस जीतना ही है मक़सद मेरा..


haar kee itanee himmat kaha jo hamase mile.. 
taqadeer ham mehanat se likhate hain jo lakeeron me na mile. 
khauf rakhate hain ham sirph khuda ka.. 
haarana nahin, bas jeetana hee hai maqasad mera.. 


झुककर चलना हमारे संस्कार है..
बात ओकात की आ जाए तो पिघलता पत्थर है। 


hindi-shayari-on-positive-attitude
hindi shayari on positive attitude



jhukakar chalana hamaare sanskaar hai..
baat okaat kee aa jae to pighalata patthar hai. 

shayari on positive attitude:-मुस्कराते हुए आगे बढ़ो


मुस्कराते हुए आगे बढ़ो, क्या पता हार भी सरमा जाए,
हाथ मिलाते हुए चलो, क्या पता मंज़िल के रास्ते कब कट जाए,
साथ देते हुए चलो, क्या पता किसी का सहारा मिल जाए
झुक जाना जहा रुतबा मिले क्या पता किसी की दुआ मिल जाए,
सर उठना जब मौत सामने खड़ी हो, क्या पता वहां नई जिंदगी मील जाए..


muskaraate hue aage badho, kya pata haar bhee sarama jae,
haath milaate hue chalo, kya pata manzil ke raaste kab kat jae, 
saath dete hue chalo, kya pata kisee ka sahaara mil jae 
jhuk jaana jaha rutaba mile kya pata kisee kee dua mil jae,
sar uthana jab maut saamane khadee ho, kya pata vahaan naee jindagee meel jae..


हमे आदत है उन संघर्षों से लड़ने का ..
जब सोच में ज़ज्बा हो कुछ कर गुजरने का..
वो रुख मोड़ देते हैं आँधियों और तूफ़ानों का।


hame aadat hai un sangharshon se ladane ka ..
jab soch mein zajba ho kuchh kar gujarane ka.. 
vo rukh mod dete hain aandhiyon aur toofaanon ka.

अब attitude जो होता है negativ भी होता है। मतलब सकारत्मक सोच! इस positive attitude होता है, किसी की बातों से हम प्रभावित होते हैं, आप अच्छा सोचते हैं। मतलब पॉजिटिव एटीट्यूड है।
कई अगर आपने कई गंदी दीवार पर लिखा हुआ कुछ प़डा।
उसके ऊपर लाइने लिखी है। तो आपने कहा यार क्या कमाल की लाइने लिखी है इस दीवार पर । क्या डिजाइन बने हुए है। तो ये आपका positive attitude है।

नकारात्मक सोच से छुटकारा कैसे पाएं:-

आपने पॉजिटिव एटीट्यूड एक्टिवेट किया और दूसरी तरफ आपने देखा कि यार क्या गंदी दीवार पर किसी ने लिखा है। तो आपका नेगेटिव एटीट्यूड है
जो आपने सीखा है और जेसी आपकी सोच है बस वहीं अपने अंदर से निकलता है। उनकी लर्निंग कैसी है। उन्होंने किस तरह की चीजों को महसूस किया हुआ है। उनका अपने घर मे किस तरह का माहौल है। किस तरह की बातें होती है । जितना और जैसा वो सुनते हैं, बस आपका Attitude भी उसी तरह का होता है।


क्या आपकी सोच  positive या negetive है 



अगर किसी के सामने मुसीबतें आती है अब वह उन्हें किस तरह से हल karta है। वह ज्यादा स्ट्रेस लेता है या नहीं, ये उसके attitude पर निर्भरकरता  है।

उसकी कोई और कांटे काम को आगे करते हैं तो इस तरह के लोग ही ज्यादा जो होते हैं, वह कामयाब होते हैं और नेगेटिव एटीट्यूड के जो लोग होते हैं। उनके साथ अगर छोटा सा कोई मसला हो जाएगा। जेसे की मैंने 90% मार्क्स लाने है। मेरी 80% आ गए। उसका negetive एटीट्यूड है, की मेरे मार्क्स कम केसे आए। मेरे ही हमेशा 80% आने वाले हैं।


अपने negetive सोच को positive कैसे करे 


अगर कोई फैल हो हो जाता है। और सोचता है कि मै फैल क्यों हुआ, क्योंकि आपने मेहनत नहीं की। इसलिए आप फेल हुए । positive attitude चीजों के बारे में गलत करके भी उसके बारे में गलत राय लेना खुद को ब्लेम करना। मतलब एक गलती को मानने के बजाय आप गलत सोचते हैं।
बस गलत सोचना गलत परसेप्शन बनाना इसको कहते हैं, negative जैसे एक बच्चे के नंबर ज्यादा आए और एक के नंबर कम आए तो बोलता है कि उसको नंबर ज्यादा दिए, क्योंकि इससे जिंदगी प्रसन्न होती है ना कि वह कामयाब ।

अगर वह मेहनत करता उसकी बैकग्राउंड अच्छा वह छोटा बच्चा रहता है। वह उसके टीचर है। अगर वह कुछ कर सकता है तो आप भी कर सकती हो तो एटीट्यूड इन पॉजिटिव का मतलब नहीं होता। क्या आपको गलत चीजों के बारे में भी सही सोचो, कि एक बंदा गलत काम करे । और आप कहे ठीक है।
हां और सब कुछ अच्छा है, दुनिया में सब कुछ अच्छा चल रहा है। यह positive attitude का मतलब यह नहीं है। इसका मतलब यह है कि आप चीजों को अच्छी तरीके से देखते हैं और बोलते है

क्यों positive attitude वाले लोग अधिक कामयाब होते है 


जो अच्छी चीज़े है आप उनकी तरफ आकर्षित होते हैं। उनकी तरफ फोकस करते हैं। जो भी बुरी चीजें होती है आप उन पर ध्यान नहीं देते और आप इग्नोर कर देते हैं, जिसकी वजह से आपका होता Attitude अच्छा होता है।
कि पॉजिटिव एटीट्यूड के बंदे होते हैं ना वह ज्यादा आगे बढ़ जाते हैं। बड़े बड़े जो ग्रेड होते हैं। बड़े-बड़े जो भी CEO होते हैं या कोई बड़ी पोस्ट होती है उस जगह पर पॉजिटिव एटीट्यूड के लोग होते हैं, उनको रखा जाता है क्योंकि कंपनी को अछे और अच्छा सोच वाले लोगों की जरूरत होती है। उन्हें positive attitude की ज़रूरत होती है।

जो negetive attitude रखते है वे इतनी खास तरक्की नहीं कर सकते हैं। क्योंकि वो किसी भी चीज़ के बारे में नकारात्मक सोच रखते हैं। तो जो negetive attitude वाले लोग पॉजिटिव एटीट्यूड के लोगों को पकड़ लेंगे या तुमने गलत काम किया है। ना कि वो उनके अच्छे काम की तरफ देखेंगे। बस उनको कमियां ही नजर आएगी।
जिंदगी को जीने मे वहीं बात बड़ी मानी जाती है कि आप अपने सामने आनी वाली मुसीबतों से केसे लड़ते हैं। आप उनका सामना करते हैं या नहीं? आप सकारात्मक सोच से हर मुसीबतों का सामना कर सकते हैं। हमें अपनी सोच को हमेशा positive रखना चाहिए,

क्यों आपका attitude positive होना चाहिए?


सकारात्मक सोच से ही हम अपनी खुशियो को ढूंढ पाते हैं, अगर हम अपनी सोच को नकारत्मक रखेंगे तो कभी हम खुश नहीं रह पाएंगे, अगर आप कभी बारिश की बूंदों को ठंडी हवाओं को महसूस ही नहीं कर पाओगे। हमारी सोच होती है जो हमारे अंदर दुख और हमारी खुशियों को दुगनी करने में मदद करती है। आप किस चीज को किस तरह से देखते हो। यही चीज आपकी खुशियां आपका नेचर आपके कामयाबी दिखाती है।

अगर आप सही वक्त का इंतजार करते रहोगे तो वक्त कभी आएगा ही नहीं। और अगर आप उसी वक्त को सही बनाने में लग जाओगे तो वक्त ऑटोमेटिकली पॉजिटिव होने लगेगा। अगर किसी ग्लास मे आधा पानी होता है और बाकी आधा खाली होता है तो किसी को लगता है। की यह आधा भरा हुआ है तो किसी को लगता है कि यह आधा खाली है, हमारा देखने का नज़रिया positive होना चाहिए कि ग्लास आधा भरा हुआ है ना कि आधा खाली।



hindi-shayari-on-positive-attitude



डिफरेंसेस बिटवीन पॉजिटिव एटीट्यूड एंड नेगेटिव एटीट्यूड 


1. नेगेटिव एटीट्यूड वाला इंसान हमेशा सोचता है। I can not .मतलब मैं यह नहीं कर सकता या मुजसे नहीं होगा।


2 .दूसरी तरफ जो पॉजिटिव एटीट्यूड वाला इंसान है, वह हमेशा यह सोचता है कि मैं कर सकता हूं या नेगेटिव एटीट्यूड वाला इंसान हमेशा प्रॉब्लम्स में फंसा रह जाता है। प्रॉब्लम पे ही रह जाता है। कभी आगे नहीं बढ़ पाता।


3 .दूसरी तरफ जो पॉजिटिव एटीट्यूड वाला इंसान है। हमेशा सोल्यूशंस ढूंढने में कंसंट्रेट करता है। यानी उसे तो अपनी पेशानियों का हल मिल ही जाता है।


4 .जो negative attitude होता है। वह दुसरो में कमिया ढूंढ़ता है दूसरी तरफ जो वाला इंसान है वह दुसरो में अच्छाइया ढूंढ़ता है। और उन्हें अपनाने की कोशिश करता है।


5. negative attitudeवाला हमेशा अपने दोस्तों की कमियों को धनदता रह जाता है जबकि पॉजिटिव attitude वाला इंसान हमेशा अपने दोस्तों की अच्छाईयों को देखता है की कोई दोस्त मेरे लिए दुआ कर रहे है, और ाची सोच रक्खता है

दोस्तों आशा  करते है की hindi shayari on positive attitude आपको  पसंद आयी होगी अपने सुझाव कमेंट में जरूर करे..

Post a Comment

Previous Post Next Post
<-- -->